News

Latest News

डेरी विकास विभाग, उत्तराखण्ड की उपलब्धियाँ एक दृष्टि में

  • 11 दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ गठित एवं कार्यरत।
  • 10 दुग्धशालाऐं, जिनकी दैनिक क्षमता 2.55 लाख लीटर प्रतिदिन।
  • 45 दुग्ध अवशीतन केन्द्र, जिनकी क्षमता 1.25 लाख लीटर प्रतिदिन।
  • 100 मै0 टन क्षमता की पशुआहार निर्माणशाला रूद्रपुर (उधमसिंहनगर) में स्थापित।
  • 140 दुग्ध मार्गों पर 4,011 दुग्ध सहकारी समितियां गठित एवं कुल 2,682 कार्यरत, जिसमें 1,55,117 सदस्यों तथा 51,066 पोरर दुग्ध उत्पादकों की भागीदारी।