• Welcome to Deptt. of Dairy Development, Uttarakhand.
menu
Schemes
Schems of Dairy Development Department
 
जिला सेक्टर योजना
 
ग्रामीण क्षेत्रों में दुग्ध सहकारिताओं का सुदृढ़ीकरणइस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत दुग्ध समितियों के सुदृृढीकरण हेतु प्रारिम्भक सहायता उपलब्ध कराना है। नई समितियों को दुग्ध जांच संयंत्र व रसायन, फर्नीचर एवं कमेटियों व सचिव/स्टाफ प्रशिक्षण, कामर्स इन्डक्शन प्रोग्राम, दुग्ध कैन, प्राथमिक पशु चिकित्सा पेटिका एवं दवायें, कार्यशील पंूजी, सिंथेटिक मिल्क टेस्टिंग किट हेतु सहायता उपलब्ध करायी जाती है तथा तीन वर्षो के लिये प्रबन्धकीय अनुदान उपलब्ध कराया जाता है। पुरानी बन्द समितियों के पुर्नगठन हेतु भी एक बार दुग्ध जांच संयंत्र व रसायन तथा समिति/स्टाफ प्रशिक्षण और तीन वर्षो के लिये प्रबन्धकीय अनुदान सहायता उपलब्ध कराये जाती है।
 इसके अतिरिक्त दुग्ध विकास केन्द्र/बल्क कूलिंग यूनिट, मिल्को टेस्टर, आटोमेटिक मिल्क क्लेक्शन यूनिट, पशुओं की चिकित्सा पशु प्रजनन, डिवर्मिग, टीकाकरण, दुग्ध कक्ष व भूसा गोदाम निर्माण तथा पशु आहार अनुदान हेतु भी सहायता इस योजना के अन्तर्गत समितियों को उपलब्ध करायी जाती है।
राज्य सेक्टर योजनाः-

डेरी विकास योजना
2 महिला डेरी विकास योजना
3 दुग्धशाला का सुदृढ़ीकरण
4 सहकारी डेरी प्रशिक्षण संस्थान की स्थापना
5 गंगा गाय महिला डेरी योजना
6 दुग्ध मूल्य प्रोत्साहन योजना
 

Copyright © 2017 dairyvikasuttarakhand.org, All rights reserved.